13 जनवरी 2022: शामली जिले की सुर्खियां? देखिए- पत्रकार नदीम चौहान के साथ- लगातार तीन दिनों से सूर्य देव के दर्शन न होने से ठंड का प्रकोप बढता जा रहा है।

शामली। लगातार तीन दिनों से सूर्य देव के दर्शन न होने से ठंड का प्रकोप बढता जा रहा है। दिनभर चलने वाली शीत लहर में लोगों की कंपकंपी बनी हुई है। लोग घरों मे दुबकने को मजबूर है, लेकिन वहां भी उनको भीषण ठंड से निजात मिलती नजर नही आ रही। सवेरे घ्ना कोहरा होने से भी वाहन चालकों की रफ्तार में कमी आई है और यही कारण है कि रातभर रूकने वाले वाहन सवेरे निकलते है और सडकों पर जाम की स्थिति बनी रहती है।
बुधवार को मौसम का अधिकतम तापमान 15 व न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सैल्सियस रहा। पिछले तीन दिनों से सूर्य देव के दर्शन न होने से ठंड का प्रकोप बढ गया है। दिनभर जारी शीत लहर ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। शीत लहर से बचने को लोग घरों से बाहर निकलना पसंद नही कर रहे और गर्म चाय व गर्म कपडों का सहारा लेने के बावजूद भी कंपकंपी बनी हुई है। सरकारी कार्यालय हो गया बाजारों की दुकाने हर कोई रूम हीटर के सहारा बैठा दिखाई दे रहा है। इसके अलावा शहर की सडकों पर यात्री जहां आलाव दिखाई देता है वही रूक जाते है। गुरूवार सवेरे जब लोग उठे को सर्द हवाओं के चलने से घरों से निकलना मुश्किल दिखाई दिया। दिनभर आसमान में कोहरा छाया रहा, जिस कारण दिन में भी वाहन चालक लाईट का प्रयोग करते नजर आये। सडकों साफ दिखाई न देने के कारण वाहनों की स्पीड धीमी रही, जिस कारण कई हाईवे पर जाम की स्थिति भी बनी रही। इसके अलावा दिनभर सूर्यदेव के दर्शन न होने और सर्द हवाओं के चलने से लोगों को खासा परेशानियों का सामना करना पडा। सवेरे बाजार भी देरी से खुले और ग्राहक बाजार से नदारद रहे। हिमालय में हो रही बर्फबारी से भीषण ठंड के प्रकोप के चलते लोग घरों में दुबके रह और अलाव का सहारा लेकर बैठे रहे। भीषण ठंड के चलते लोगों में नजला जुकाम, खांसी व बुखार की शिकायते भी ज्यादा पैदा हो रही है। जिससे बचाव को चिकित्सक भी घरों में रहने और लगातार गर्म पानी का सेवन करने की सलाह दे रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *